क्या आप समझते हैं कि जनता को सरकार को संयुक्त हस्ताक्षर अभियान के जरिए,आदेश देने का अधिकार है?

Monday, November 22, 2010

ऐसे लोगों को आज विधायक नहीं बल्कि देश का प्रधानमंत्री होना चाहिए ......









चित्र में बाएं से मैं (जय कुमार झा) तथा श्री सुखराम कोली जी (विधायक,बसेरी विधानसभा क्षेत्र ,धौलपुर,राजस्थान  ) 

मैं ओनेस्टी प्रोजेक्ट के लक्ष्य (ह़र इमानदार व्यक्ति चाहे वो विधायक हो,IAS हो,IPS हो,सामाजिक कार्यकर्त्ता हो या आम नागरिक हो सभी लोग एक मंच पर एकजुट होकर भ्रष्टाचार के खिलाप तथा सत्य,न्याय,ईमानदारी की सुरक्षा और सहायता के लिए मिलकर पूरे देश में काम करें तथा एक दूसरे को अच्छाई की राह पर चलने में हार्दिक सहयोग प्रदान करें ) के तहत धौलपुर 20 /11 /2010 को पहुंचा जहाँ मेरी मुलाकात बसेडी के विधायक श्री सुखराम कोली से हुयी,श्री कोली युवा दलित विधायक होने के साथ-साथ ईमानदारी से अपने क्षेत्र को विकसित करने का प्रयास कर रहें हैं तथा भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाप भी मुहीम चला रहें हैं | आज जहाँ समूचा देश भ्रष्ट मंत्रियों और जन प्रतिनिधियों के कुकर्मों से शर्मसार हो रहा है वहां किसी विधायक द्वारा रिश्वतखोर अधिकारियों से कोई समझोता नहीं करना तथा भ्रष्टाचार के खिलाप लड़ाई लड़ना निश्चय ही एक आशा की किरण के सामान है | उन्होंने मेरे सामने कुछ रिश्वत खोरों के खिलाप कार्यवाही के लिए ना सिर्फ सार्थक प्रयास किये बल्कि राज्य के मुख्यमंत्री को सख्त कार्यवाही के लिए पत्र भी लिखे....

http://www.youtube.com/watch?v=LIJ6K776wIE
इस विडियो में आप श्री कोली को देख और सुन सकतें हैं....


श्री कोली ने कहा की आगरा से ताज की सुरक्षा के चलते कई उद्योगों को दूसरे जगह स्थानांतरित किये जाने की प्रक्रिया चल रही है ,अतः भारत सरकार और राजस्थान सरकार आगरा से स्थानांतरित उद्योगों को अगर उनके क्षेत्र या धौलपुर जिले में स्थापित करे तो इस क्षेत्र के लोगों को समुचित रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे | अभी धोलपुर का मुख्य उद्योग पत्थर उद्योग ही है |


श्री कोली ने मुझसे बातचीत में देश के उद्योगपतियों को धौलपुर में उद्योग स्थापित करने के लिए आगे आने का आग्रह किया साथ ही उनको इसमें हर संभव सरकारी सहायता मुहैया कराने में मदद का भी भरोसा दिया | उन्होंने छोटे उद्योगपतियों को भी धोलपुर में उद्योग लगाने का आग्रह किया | उन्होंने भारत सरकार और राजस्थान सरकार से भी इस दिशा में प्रयास करने का आग्रह किया | जब मैंने उनसे गांवों में इन्टरनेट से सुसज्जित जनसमस्या निवारण प्रयास केंद्र के स्थापना के बारे में उनके विचार जानने का प्रयास किया तो उन्होंने अपने विधान सभा क्षेत्र के सभी गांवों में ऐसा केंद्र खोलने पर जोर देते हुए कहा की मैं इसके लिए राज्य के इनफोर्मेसन टेक्नोलोजी मंत्रालय को पत्र लिखकर इसके लिए फंड मुहैया कराने का आग्रह करूंगा ...सचमुच यह अच्छा रहेगा प्रशासनिक पारदर्शिता की दिशा में | 


श्री कोली के ईमानदारी के बारे में पहले भी काफी कुछ लिखा जा चुका है जिसे आप इन लिंक्स पर जाकर पढ़ सकते हैं ....
http://www.bbc.co.uk/hindi/india/2010/07/100713_rajasthan_mla_teacher_adas.shtml
http://gantantradusrupaiyaekdin.blogspot.com/2010_07_01_archive.html

मैंने अपने मुलाकात में जो सबसे बड़ी बात महसूस की श्री कोली में वह थी उनकी शालीनता तथा ईमानदारी के लिए जज्बा ,संयोग से 21/11/10 को ही श्री राहुल प्रकाश जी (IPS ) धौलपुर के पुलिस अधीक्षक का पद भर संभाल रहे थे इसलिए उनसे भी सुबह-सुबह मुलाकात हो गयी ,उनसे भी मैंने व्यक्तिगत तौर पर ऐसे इमानदार विधायकों और सच्चे नागरिकों का हरहाल में साथ देने का आग्रह किया | श्री राहुल प्रकाश जी ने भी तहे दिल से ईमानदारी तथा इंसानियत के लिए किये जा रहे हर प्रयास को सहायता और सुरक्षा देने का वादा किया | 


ऐसे विधायक को पूरा देश नमन करता है और सही मायने में ऐसे लोगों की वजह से ये गणतंत्र पूरी तरह ख़त्म होने से बचा हुआ है ......अगर हो सके तो विधायक के सम्मान में एक पत्र धौलपुर के जिला प्रशासन तथा राजस्थान के मुख्यमंत्री को भी लिखें तथा अपने ब्लॉग पर ना सिर्फ श्री सुखराम कोली बल्कि देश के कोने-कोने से ढूंढकर ऐसे विधायकों के कार्यों और विचारों को सम्मानित करने का प्रयास करें ....असल में ऐसे विधायकों को आज हमारे देश के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के पदों तक पहुंचना बहुत जरूरी है .....