क्या आप समझते हैं कि जनता को सरकार को संयुक्त हस्ताक्षर अभियान के जरिए,आदेश देने का अधिकार है?

Saturday, March 20, 2010

सतीश शेट्टी के हत्यारों को फाँसी दो ------------------

अब कलम के पुजारियों और सच्चे देश भक्त पत्रकारों (वैसे तो असल में पत्रकार कहलाने का हक़ हर उसी व्यक्ति को है जो देश भक्त और निडर हो)को कलम के साथ तलवार भी रखना होगा क्योंकि निड़र और देशभक्त लोगों को भी अपना और अपने आत्म सम्मान की रक्षा का अधिकार है / आज हर तरफ पत्रकारों को धमकाया और डराया जाता है /सामाजिक कार्यकर्त्ता और सुचना के अधिकार का प्रयोग कर रहे लोग ,सही मायने में देश के जाँच एजेंसियों के अधिकारीयों का काम करके देश के स्वेत रक्त कण (हमारे देश की जाँच एजेंसियाँ) को देश को गंभीर बीमारी से लड़ने में ,देश की व्यवस्था जो पूरी तरह सड़ चुकी है को थोड़ी  बहुत सहायता पहुंचा रही है,जिससे देश में इंसानियत जिन्दा है ,वैसे तो इसे मारने की पूरी तैयारी उन देश के गद्दारों द्वारा कर ली गयी है जो- हैं तो हिन्दुस्तानी ,खाते है हिंदुस्तान का,बैठे है देश के तथाकथित  कर्ता-धर्ता बनकर लेकिन उनका देश और देश के लोगों के हितों से दूर -दूर तक कोइ वास्ता नहीं है / अगर वास्ता होता तो तालेगांव दबहाड़े,पुणे के पास देश के सुरक्षा का एक स्वेत रक्त कण(सतीश शेट्टी) की हत्या देश में हर तरफ चोरी और बईमानी का जाल बनाने वाले देशद्रोहियों द्वारा करा दी गयी और लगभग तीन महीने बाद भी ऐसे जघन्य अपराध करने वालों को नहीं पकरा जाना समूचे महाराष्ट्र के लिए ही नहीं बल्कि पूरे देश और उसकी व्यवस्था के लिए शर्मनाक है / दरअसल व्यवस्था में बैठे लोग सतीश शेट्टी के हत्यारों के बारे में नहीं जानते ऐसा नहीं है,बल्कि व्यवस्था  में बैठे भ्रष्ट लोगों के इशारों पे ही हत्या सोची समझी साजिश और देश की व्यवस्था को पटरी पर लाने वाले देश व्यापी आन्दोलन को कमजोर करने के लिए की गयी /अतः देश के पत्रकारों और समाज सेवको से हमारा आग्रह है की अपने खोजी पत्रकारिता को निडर होकर अंजाम तक पहुँचाने के लिए,अपनी रक्षा के लिए और सतीश शेट्टी जैसे आज के निडर स्वतंत्रता सेनानियों की रक्षा  के लिए कलम के साथ तलवार भी रखें / अपनी रक्षा किसी देशद्रोहियों से करने के लिए उस पर वार करना सदाचार की श्रेणी में आता है / हमारा आग्रह ऐसे इमानदार आई पी एस अधिकारीयों से है की -मानवता और इंसानियत को जिन्दा रखने के लिए सतीश शेट्टी के हत्यारों को जल्द से जल्द पकर कर उसे फाँसी की सजा दिलवाने के लिए ठोस सबूत अदालत में पेश करें / इसके लिए समूचा देश उनका आभारी रहेगा / सभी ब्लोगरों से हमारा आग्रह है की सतीश शेट्टी के हत्यारों को पकरने के लिए अपने ब्लॉग के जरिये आन्दोलन चलाएं और महाराष्ट्र के मुख्य मंत्री को ई मेल करें,जिससे सतीश सेट्टी जैसे लोगों को सम्मानित कर हमेशा लोगों के दिलों में जिन्दा किया जा सके और ऐसे लोगों पर हमला करने वालों को सख्त से सख्त सजा दिलाया जा सके /

                

No comments:

Post a Comment